लो भैया अब हम भी CA हो गए ।

 

ले लिया था 12th से पहले एडमिशन,

भुला कर बचपन के दिन किताबो में हम खो गए

लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए । ।

Accounts की Entry , Law के Section

Maths के फॉर्मूले, Economics के डाटा में खो गए

CPT Clear कर IPCC के लिए Eligible हो गए

लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए ।

 

न ज्ञान था Tax का न Cost को समज पाते थे

उठा कर किताबे घर को वापस लोट आते थे

मगर Social Media पर अभी से अपने आप को CA बताते थे

दोस्त मौज मस्ती करने घूमे,

हमारे लिए तो किताबो के अफ़साने ही बहुत बड़े बड़े हो गए

लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए ।

IPCC के एग्जाम आये, हॉल में कुछ समज न आये

फिर रिजल्ट में हम फ़ैल हो गए,

मगर अब कहते है लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए ।

टोपर थे मगर किस रस्ते पर आकर हम खो गए

दिए थे एग्जाम जीवन में पहली मर्तबा हम असफल हो गए

लो भैया अब हम भी Ca वाले हो गए ।

 

पूँछ कर आंसू , दिल में छिपा कर दर्द

एक बार फिर एग्जाम देने को तैयार हो गए

लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए ।

कर लिया क्लियर IPCC , अब हम भी कुछ दोस्ती से आगे

कुछ दोस्त हमसे आगे हो गए लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए ।

उत्साह था Articleship का मगर हकीकत से वाकिफ न थे

अब कर लिया ज्वाइन ऑफिस अब हम भी ऑफिस वाले हो गए

 

सोचा था क्या क्या हमने , क्या क्या काम करेंगे,

घर वालो का बड़ा नाम करेंगे ,

यह तो अब हम फोटोकॉपी वाले हो गए , न जाने हम कहा खो गए

निकल गए दिन धीरे धीरे अब तो सीनियर भी हम हो गए ,

छुपा लिए बहुत से गम अगर किसी दिन boss की डांट कहते हम रो गए

अब तो कुछ क्लाइंट भी अपने दोस्त हो गए , न जाने हम कहा खो गए ।।

न होली न दिवाली, न कोई त्यौहार हमारा था

बस अब तो एक संडे का सहारा था

पढाई का presure , ऑफिस का काम

न संडे न कोई छुट्टी न रहा अब जिंदगी में आराम,

टैक्स , GST , ऑडिट और accounts से होकर परेशान,

रात रात भर हमने भी किया है काम

अब दिन को जब मांग ली छुट्टी,

बॉस बोले “बेटा किन ख्यालो में तुम खो गए, छुट्टी मत मांगो,

बहुत पड़ा है काम, अब तुम बड़े हो गए क्युकी अब तुम Auditor हो गए ।

होकर उनकी बातो से हैरान , परेशान ,

आया गुस्सा मगर इस बार फिर हम थोड़ा सा रो गए

लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए ।

 

पूरी होने को थी Articleship हमारी, इतने सालो में न नजदीक आयी कन्या कुंवारी,

लव लाइफ के सपने तो अब सपनो में ही रह गए लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए ।

 

वो अंतिम दौर था दफ्तर का , सोचा अब तो नए नए आर्टिकल ही ऑफिस के हो गए

बॉस से मांगी छुट्टी , बॉस बोले ” अरे इतनी जल्दी तुमको ३ साल कैसे हो गए

छुट्टी की बात को छोड़ पीछे , बोले जाओ ऑडिट पर कल बात करते है,

कल बात करते है।।

कल बात करते है कल बात करते है कहते कहते उनको २ महीने हो गए

हमने फिर भी सहन किया क्युकी भैया अब हम ऑफिस के सीनियर जो हो गए ।।

 

टर्मिनेशन पर किये नाटक , वो हमसे बेरुखे से हो गए ,

मगर क्या करते अब हम सीनियर जो हो गए।

आखिर मिल गयी छुट्टी, हो गए टर्मिनेट, दिख रहा था CA FINAL का गेट

करना था खुद को साबित न दिन का पता न रात का तो हम किताबो में खो गए,

न जाने कब हम किताबो के बीच ही सो गए । सोचता था हम किस दुनिआ में खो गए।।

अब तो बस दिन की सुरुवात अकाउंट से थी GST पर था अनत,

पहले बॉस ने रुलाया अब ऑडिट पढ़ते पढ़ते हम रो गए लो भैया अब हम भी CA वाले हो गए ।

 

Shadi, Function पराये हो गए,

शादी तो बहुत दूर हमारे दोस्तों के तो नन्हे नन्हे बालक भी हो गए ।

मगर हम क्या करते , हम तो CA वाले हो गए ।

आगयी एग्जाम की घडी, अब तक तो हमने बस 50 किताब ही तो पढ़ी

लॉ के सेक्शन थे बहुत ही भारी ऊपर से ऑडिट ने भी हमे खूब मारी,

थक गया तो पता चला अब इनकम टैक्स और कॉस्टिंग की थी बारी

मगर विस्वास था GST तो थी हमारी।

 

पेपर में dekha तो हम तो GST के लिए भी बेवफा हो गए

जगे थे जो अरमान वो एग्जाम हॉल में ही सो गए।।

करना था पेपर सोल्वे, लिया घर वालो का नाम ,

न जाने कैसे वो सेल Question मुझसे सोल्वे हो गए,

अब तो लगता था हम भी बस समझो CA हो गए।।

घडी थी रिजल्ट की ,घर पर सब कर रहे थे बेसब्री से इंतज़ार,

विस्वास था हो जाऊंगा पास क्योकि मेरे साथ था मेरे घर वालो का प्यार

देख कर रिजल्ट एक बार फिर हम रो गए

क्युकी बधाई हो अब हम CA हो गए।।

अब हम CA हो गए।।

 

हुए थे हम भी असफल कुछ बार, मगर याद था घर वालो का प्यार,

वो कहानी बताकर नहीं करूँगा मूड ख़राब,

बस हर असफलता के बाद हम नए जोश के साथ किताबो में खो गए

 

क्युकी बधाई हो अब हम CA हो गए।।

Author Bio

More Under CA, CS, CMA

2 Comments

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Search Posts by Date

January 2021
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031